हमारा परिचय | द कूटनीति

द कूटनीति भारत का एकमात्र ऐसा प्रकाशन है जो अंतराष्ट्रीय सम्बन्धो और कूटनीति के लिए समर्पित है| भारत की राजधानी दिल्ली से प्रकाशित द कूटनीति का प्रकाशन हिंदी, अंग्रेजी और स्पेनिश भाषा में है, हम द कूटनीति के माध्यम से अन्तर्राट्रीय सम्बन्धो के बहुआयामी किनारो को अपने पाठको के सामने लाते है| हमारा मकसद भारत को दुनिया से जोड़ना है और भारतीय विदेश नीति का प्रचार पूरी दुनिया के सभी हिस्सों में करना है|

द कूटनीति समूह

हम सिर्फ अपने सर में रॉक संगीत और उँगलियों पे इंटरनेट की दुनिया चलने वाली पीढ़ी का समूह ही नहीं है| हम रचनात्मक है, हम आशावादी है एक नवनिर्माण के लिए, हमारा सफर शुरू होता है एक दूरगामी सोच और भविष्य की कल्पना के साथ जहाँ मुल्को के बीच भौतिक दूरियां काम हो रही है, पूंजी का निवेश कोई सीमा नहीं देख रही है और सांस्कृतिक कूटनीति अपनी अलग ही पहचान बना रही है| ऐसे वक़्त में जब भारत विश्व में सबसे तेजी से बढ़ता हुआ एक अर्थव्यवस्था है और अपनी एक अलग ही पहचान बना रहा है, हमारा समूह समर्पित है एक नए भारत के लिए और उससे भी अधिक भारत को उसकी पहचान दिलाने में अपना योगदान देने के लिए|

हमारा पाठक आधार – हिंदी भाषा

हमारा काम दूरियों को कम करना है, भाषाओ से बनी दीवारों को लांघना है, अगर सही मायनो में देखें तो हम भारतीय पूरी दुनिया में है, प्रवासी भारतीय और भारतीय मूल के लोग आज भी अपने देश और अपनी भाषा से जुड़े हुए है, ऐसे में हमारी ये हिंदी भाषी पहल उन सभी लोगो को जोड़ रही है जो भारत की कूटनीति और बदलते अंतराष्ट्रीय सम्बन्धो में रूचि रखते है|

हमारा पाठक आधार – अंग्रेजी और स्पेनिश

हमारी वैश्विक समूह ने अपने मेहनती काम से पूरी दुनिया के हर कोने तक पहुंचने में सफलता हासिल की है| हमारी स्पेनिश प्रकाशन जहाँ दक्षिणी अमेरिका के 14 देशो में बसे पाठको तक पहुँच बना चूका है वहीँ हमारी अंग्रेजी प्रकाशन 114 देशो के इंटरनेट की दुनिया में अपनी जगह बनायीं है|

हमारा लक्ष्य

हमारा लक्ष्य केवल प्रवासी भारतीय और कूटनीतज्ञो के लिए न हो कर के बल्कि हर उस वर्ग के लिए है जिसे अंतराष्ट्रीय सम्बन्धो में रूचि है| हमारे लक्ष्य समर्पित है:


• उन भारतीय छात्रों के लिए जो विदेश सेवा में अपना भविस्य देख रहे है|

• उन सभी पत्रकारों के लिए है, जो विदेश नीति पे अपने विचारो को प्रस्तुत करने के लिए मंच की तलाश में है|

• भारत में स्थापित उन सभी दूतावासों को भारत के नागरिको, व्यवसायों और भारत सरकार से जुड़ने में सहायता करना, हमारे आयोजनों, प्रकाशन और सोशल मीडिया की मदद से|

इस लेख में व्यक्त किए गए विचार और राय लेखक के हैं और जरूरी नहीं कि द कूटनीति टीम के विचारों को प्रतिबिंबित करें