Category: विचार

वो हाशिये से भी उठकर अब बाहर जा रहे हैं!

किसान के घर का अन्न से भर जाना और मजदूर को रोज काम मिलना, ये किसी भी काल में संभावित होना एक सपने सरीखा है| वैज्ञानिक दूरबीन एवं सहानुभूति के लेंस का समागम वर्तमान...

कोविड-19 और एक नई दुनिया की परिकल्पना

कोई भी इस तथ्य से असहमत नहीं होगा कि कोविड-19 (COVID-19) के खत्म होने की महामारी के बाद ‘दुनिया कभी भी एक जैसी नहीं रहेगी’। इस समय पर कुछ भी अनुमान लगाना उचित नहीं...

कैसा था “ग्रेट डिप्रेशन” – दुनिया का सबसे बड़ा आर्थिक संकट?

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष, आईएमएफ ने कहा है कि कोरोना महामारी के चलते दुनिया ग्रेट डिप्रेशन के बाद का सबसे बड़ा आर्थिक संकट देखने जा रही है. क्या हुआ था आज से करीब 90 साल...